बरेली : पुलिस ने घोंटा सच्चाई का गला, ग्रामीणों से अवैध वसूली कर रहे साउथ सेक्रेटरी को छोड़ा

ग्रामीणों के अनुसार अब तक लगभग 15,000 रुपए की अवैध वसूली हुई, सूचना पर पहुंचे मीडिया कर्मियों से भिड़ गई वसूली टीम

ग्रामीणों से अवैध वसूली पुलिस ने सच्चाई का गला घोंट आरोपी को छोड़ा। वोटर स्पार्क इंटरनेशनल पार्टी का साउथ सेक्रेटरी जनरल भानु प्रताप सिंह 5 सदस्य टीम के साथ फतेहगंज पूर्वी थाना क्षेत्र के गांव कजरौटा में डेरा डाले हुए है। सैकड़ों ग्रामीणों को निशाने पर लिया। जागरूकता अभियान के नाम पर सैकड़ों ग्रामीणों से 30,30 रुपए की वसूली कर मेंबर बनाते हुए फर्जी हलफनामा थमा दिया।

ग्राम वासियों को वोटरों की अधिकारों का ज्ञान बता कर किसी एक्ट के तहत ₹8000 दिलाने का दावा किया। यह अवैध वसूली लगभग 15 दिनों से चल रही है । ग्रामीणों के अनुसार अब तक लगभग 15000 की अवैध वसूली हुई है। सूचना पर पहुंचे मीडिया कर्मियों ने जब वसूली टीम से जानकारी लेने की कोशिश की तो वसूली टीम मीडिया कर्मियों से ही भिड़ गई।

जिसके बाद मीडिया कर्मियों ने सीओ फरीदपुर राजकुमार मिश्रा प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार को जानकारी दी। जिसके मौके पर पहुंचे कोतवाल ने जब वसूली टीम से प्रमाण मांगे तो वो कोई भी प्रमाण नहीं दिखा पाए। एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल को दी गई झूठी रिपोर्ट वसूली करने वालों को कोतवाल ने चेतावनी देकर छोड़ा। जिसको लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश है। मामला फतेहगंज पूर्वी थाने के कजरौटा गांव का है।

पीड़ित

रिपोर्टर : फजलुर रहमान

Back to top button